बांसुरी स्वराज जीवनी (Bansuri Swaraj Biography)

0
474

भारतीय जनता पार्टी की कार्यकर्ता तथा पूर्व विदेश मंत्री सुषमा स्वराज की इकलौती बेटी का नाम बांसुरी स्वराज है । वह अपने पिता के भांति ही एक एक क्रिमिनल लॉयर है । उसने ऑक्सफोर्ड विश्वविद्यालय से ग्रेजुएशन किया है तथा इनर टेम्पल से कानून में बैरिस्टर की डिग्री प्राप्त की है । अभी बांसुरी दिल्ली हाईकोर्ट तथा सुप्रीम कोर्ट में प्रशिक्षण ले रही है ।

नामबांसुरी स्वराज/कौशल
जन्म तिथि3 जनवरी 1984
जन्म स्थलदिल्ली, भारत
मातासुषमा स्वराज
पितास्वराज कौशल
शिक्षाऑक्सफोर्ड विश्वविद्यालय से ग्रेजुएशन ,इनर टेम्पल से कानून में बैरिस्टर की डिग्री
व्यवसायक्रिमिनल लॉयर
राष्ट्रीयताभारतीय

प्रारंभिक जीवन

बांसुरी स्वराज का जन्म 3 जनवरी 1984 को दिल्ली में हुआ । उसके माता का नाम स्व. सुषमा स्वराज तथा पिता का नाम स्वराज कौशल है । उनकी माता भारतीय जनता पार्टी की एक वरिष्ठ सदस्य तथा भारत को पूर्व विदेश मंत्री थी । उनके पिता एक क्रिमिनल लायर हैं तथा मिजोरम के गवर्नर रह चुके हैं ।

उनकी माता भगवान श्री कृष्ण की बहुत बड़ी भक्त थी इसी कारण से माता सुषमा स्वराज ने भगवान श्री कृष्ण के करीबी वस्तु के आधार पर बेटी का नाम बांसुरी रखा । उनके माता की भांति ही बांसुरी भी भगवान श्री कृष्ण की भक्त है । बांसुरी को यात्रा और चित्रकारी का बहुत शौक है । वह भिन्न – भिन्न जगहों में यात्रा करती हैं तथा जब वह खाली रहती है तब वो चित्रकारी करती है ।

बांसुरी ने ऑक्सफोर्ड विश्वविद्यालय से ग्रेजुएशन की पढ़ाई की है तथा इनर टेम्पल से कानून में बैरिस्टर की डिग्री हासिल की है । दिल्ली के हाई कोर्ट और सुप्रीम कोर्ट में प्रशिक्षण के पश्चात वो अब अपने पिता के भांति ही क्रिमिनल लॉयर है । वो निजी रूप से भारतीय जनता पार्टी का समर्थन करती है और वो अमेरिका के राजनेता “हिलेरी क्लिंटन” से 2013 में मिल चुकी है ।

व्यवसाय

बांसुरी एक वकील है और साथ ही साथ ललित मोदी के कानूनी टीम की सदस्य भी है । उसके ललित मोदी के कानूनी दल में होने कि जानकारी तब मिली जब खुद ललित मोदी ने ट्वीट कर बांसुरी स्वराज समेत 8 वकीलों को कानूनी मदद करने के लिए धन्यवाद दिया । ललित मोदी के इस ट्वीट के बाद ही बांसुरी चर्चा में रही है । ललित मोदी ने ट्वीट में महमूद अब्दी, बांसुरी स्वराज, रोजर ग्रेसन, डॉक्टर आर मराठा, बियांका हेमरिच, वेंकटेश दोंद, अभिषेक सिंह, अंकुर का नाम शामिल किया था । बांसुरी का ललित मोदी के कानूनी टीम होने के खबर का प्रमाण तब मिला जब 27 अगस्त 2014 में हाईकोर्ट ने ललित मोदी का पासपोर्ट बहाल कर दिया था तथा कानूनी टीम के साथ वो भी वहां मौजूद थीं और ललित मोदी को राहत मिला था । इसके बाद ललित मोदी ने अपने टीम को धन्यवाद कहा था ।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here